Must Read: शाओमी लाया बैटरी का बादशाह, 4100mAh बैटरी वाला रेडमी नोट 4 स्मार्टफोन इंडिया में हुआ लाॅन्च , कीमत ₹9,999 से शुरु
Phoneradar logo

लाइव वीडियो – भारतीय मूल के गूगल CEO सुंदर पिचाई का IIT खड़गपुर में स्टूडेंट्स को संबोधन

सर्च इंजन कंपनी गूगल के CEO सुंदर पिचाई आज दोपहर 12 बजे IIT खड़गपुर में एक स्टूडेंट्स को संबोधित करने जा रहे हैं। इसके लिए कैम्पस में ही ‘अ जर्नी बैक टू द पास्ट टू इंस्पायर द फ्यूचर’ टाइटल नाम से इवेंट का आयोजन किया गया है। जहां पिचाई अपनी बाते अपने स्टूडेंट्स से शेयर करेगें। इसकी लाइव स्ट्रीम यूट्यूब पर उपलब्ध है जहां आप पिचाई का व्याख्यान देख सकते हैं। आप नीचे दी गई लाइव स्ट्रीम पर क्लिक कर भी इस संबोधन को देख सकते हैं जो थोड़ी ही देर में शुरु हो जाएगा।

गौरतलब है कि सुंदर पिचाई भारतीय मूल के है और अपनी पढ़ाई IIT खड़गपुर से करने के बाद आगे की पढ़ाई के लिए वे अमेरिका चले गए थे। जिसके बाद से वे वहीं बस गए। पिचाई ने वर्ष 1993 में IIT खड़गपुर से मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है। ऐसा बताया जा रहा है कि पिचाई स्टूडेंट्स को करीब डेढ घंटे तक संबोधित कर सकते हैं। इससे पहले दिल्ली यूनिवर्सिटी के श्रीराम काॅलेज में भी अक्टूबर 2015 में पिचाई स्टूडेंट्स को संबोधित कर चुके हैं। उस समय हर्षा भोगले ने उनसे कई सवाल पूछे थे और उनका इंटरव्यू लिया था। हालांकि IIT खड़गपुर में होने वाले कार्यक्रम के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है।

इससे पहले कल पिचाई दिल्ली में डिजीटल अनलाॅक्ड पहल की शुरुआत भी कर चुके हैं। यह पहल देश के विभिन्न छोटे और मध्यम आकार के व्यापार को आॅनलाइन लाने के लिए शुरु की गई है। इसे देश में फिक्की की मदद से गूगल लाॅन्च कर रहा है। गौरतलब है कि पिचाई पिछले कुछ दिनों से निजी कारणों के चलते इंडिया के दौरे पर है। और इसके साथ ही कुछ दिन उन्होंने राजस्थान के जयपुर में भी बिताएं है। मदूरई में पैदा हुए पिचाई का ससुराल राजस्थान के ही कोटा शहर में है।

गूगल CEO पिचाई ने अपने भारत दौरे पर भारत सरकार के नोटबंदी के फैसले की सराहना की है और इसे एक साहसी कदम बताया है। उनका मानना है कि किसी भी देश खासकर भारत जैसे बड़े देश को इतने बड़े पैमाने पर डिजीटलीकरण करना आसान काम नहीं होता है। इसके आने वाले दिनों में बहुत फायदे होगें। हम सरकार के UPI के पहले से ही बहुत बड़े सपोर्टर है। अगर UPI इंडिया में चल जाता है तो इसे बाकि दुनिया के देशों में भी लागू किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि भारत एंड्राॅयड के लिए सबसे बड़ा बाजार है और इंडिया में गूगल कई नए प्राॅडक्ट सबसे पहले लाॅन्च कर रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि जो चीज इंडिया में चल जाती है वह पूरे विश्व में भी चलती है। इसलिए वे कई प्राॅडक्ट इंडिया में पहले लाॅन्च करते हैं।


By Nitesh Rathore on Thursday 5th of Jan 2017